Monday, 15 Jun 2020

Kisan Sanchar Haryana Desk








Reference:- mausam.imd.gov.in 

भारतीय मौसम विज्ञानं विभाग 

 

माननीय सरपंच जी

नमस्कार

मौसम का यह पूर्वानुमान और एग्रो एडवाइजरी आपको भारतीय मौसम विज्ञान विभाग एवं किसान संचार के द्वारा दिया जा रहा है |

अम्बाला

अम्बाला जिले में अगले तीन दिन तक ह्ल्की वर्षा होने की संभावना है और बाद में मौसम शुष्क रहेगा तथा हवा की गति 15 किली/घंटा तक रहे सकती है और आसमान में हल्के बादल रहेने तथा अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है 

फ़रीदाबाद

फ़रीदाबाद जिले में 15 जून को हल्की बूंदाबांदी होने की सम्भावन है | अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ हवा की गति 12 किमी प्रति घंटा तक रहे सकती है |

गुरुग्राम

गुरुग्राम जिले में 15 जून को हल्की बूंदाबांदी होने की सम्भावन है | अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ हवा की गति 11 किमी प्रति घंटा तक रहे सकती है |

कैथल

कैथल जिले में 15 और 16 जून को हल्की बूंदाबांदी होने की सम्भावन है | अधिकतम तापमान 38 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ हवा की गति 14 किमी प्रति घंटा तक रहे सकती है |

करनाल

करनाल जिले में 15  से 17 जून के बीच हल्के बादल छाये रहने के साथ मध्यम हवाओं के साथ हल्की वर्षा होने की संभावना है है अधिकतम तापमान 40 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ हवा की गति 14 किमी प्रति घंटा तक रहे सकती है |

कुरुक्षेत्र

कुरुक्षेत्र जिले में 15 और 16 जून को हल्की बूंदाबांदी होने की सम्भावन है | अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ हवा की गति 14 किमी प्रति घंटा तक रहे सकती है

मेवात

मेवात जिले में 15 जून को हल्की बूंदाबांदी होने की सम्भावन है | अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ हवा की गति 11 किमी प्रति घंटा तक रहे सकती है |

पंचकूला

पंचकूला जिले में अगले तीन दिन तक ह्ल्की वर्षा होने की संभावना है और बाद में मौसम शुष्क रहेगा तथा हवा की गति 13 किली/घंटा तक रहे सकती है और आसमान में हल्के बादल रहेने तथा अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है |  किसान भाइयों को सलाह दी जाती है कि वे अपनी फसलों में बिजाई, सिंचाई और छिड़काव आदि न  करें |

पानीपत

पानीपत जिले मे 15 जून को मौसम आमतौर पर परिवर्तनशील रहने की संभावना तथा बीच-बीच में बादल व हवाओं के साथ हल्की वर्षा हो सकती है अधिकतम तापमान 39 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 28 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ ही हवा की गति 16 किमी प्रति घंटा तक रहे सकती है |  

सोनीपत

सोनीपत जिले में 15 जून को मौसम आमतौर पर परिवर्तनशील रहने की संभावना तथा बीच-बीच में बादल व हवाओं के साथ हल्की वर्षा हो सकती है अधिकतम तापमान 41 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ ही हवा की गति 12 किमी प्रति घंटा तक रहे सकती है |  

यमुना नगर

यमुना नगर जिले में अगले तीन दिन तक ह्ल्की वर्षा होने की संभावना है और बाद में मौसम शुष्क रहेगा तथा हवा की गति 13 किली/घंटा तक रहे सकती है और आसमान में हल्के बादल रहने तथा अधिकतम तापमान 37 डिग्री सेल्सियस और न्यूनतम तापमान 27 डिग्री सेल्सियस तक रहने की संभावना है |

किसन भाइयों एपिसोड के अगले भाग में हम आपको  विभिन्न फसलों के बारे में भारतीय मौसम विज्ञान विभाग द्वारा जारी एग्रो एडवाइजरी यानि कृषि सलाह के बारे में बताने जा रहे हैं

धान

आने वाले दिनों ,में खुश्क मौसम की संभवना को देखते हुए किसान भाइयों को सलाह दी जाती है की धान की पौध तैयार करने वाले खेत में 10 से 12 गाड़ी कम्पोस्ट खाद डाल कर 2-3 बार जुताई कर खेत तैयार करके बीजोपचार करने के बाद धान की नर्सरी की बिजाई करें |

एक हैक्टेयर क्षेत्रफल में रोपाई करने हेतु लगभग 800 से 1000 वर्गमीटर क्षेत्रफल में पौध तैयार करना पर्याप्त होता है नर्सरी के क्षेत्र को 1.25 से 1.5 मीटर चौड़ी तथा सुविधानुसार लंबी क्यारियां बनाएं |

धान के संकर किस्में जैसे पन्त संकर धान 1, नरेंदर संकर धान 1, पी आर एच 10 |

अधिक उपज देने वाली किस्में  पूसा 44, पन्त धान 4, पन्त धान 10, पूसा 834, पूसा बासमती 1, पूसा सुगंध 5, पूसा सुगंध 4 आदि की बिजाई करने की अन्सुशंसा दी जाती है

जो किसान भाई पहले से धान की नर्सरी लगा चुके हैं उनकी नर्सरी में लौह तत्त्व की कमी के लक्षण जैसे पौधों का सफेद या पीला पड़ जाना दिखाई देते हैं तो 12 ग्राम फैरस सल्फेट 25 लीटर पानी मे घोल कर प्रति कनाल छिड़काव करें |

धान की नर्सरी में समय-समय पर आवश्कता अनुसार ह्ल्की सिंचाई कर दें ताकि पौध क्षेत्र में तेज धूप में पानी खड़ा न रहे |

नर्सरी में से समय समय पर खरपतवार निकलते रहें |

प्याज

प्याज की खेती करने वाले किसान भाईओं को यह सलाह दी जाती है की प्याज की समय से बोयी गई फसल में थ्रिप्स के संक्रमण की निरंतर निगरानी करते रहें |

टमाटर

टमाटर की खेती करने वाले किसान भाइयों को यह सलाह दी जाती है की टमाटर की फसल को फल छेदक कीट से बचाव के लिए कीट ग्रसित फलों तथा प्रोहरों को इक्कट्ठा कर नष्ट कर दें

यदि कीट की संख्या अधिक हो और आसमान भी साफ़ हो तो स्पिनोसेड कीटनाशी दवा 48 ई.सी को  1 मि.ली. लेकर  4 लीटर पानी की दर से छिड़काव करें

पौधशाला को तेज धूप से बचाने के लिए 40% छायादार नेट द्वारा 6.5 फीट की उंचाई पर ढका जा सकता है  

भिंडी

भिंडी की खेती करने वाले किसान भाइयों को ही सलाह दी जाती है की हल्की वर्षा से पानी के जमाव के कारण होने वाले नुक्सान से अपनी भिंडी की फसल को बचाने के लिए जल निकासी का उचित प्रबंध रखें |

बैगन

बैंगन की खेती करने वाले किसन भाइयों को यह सलाह दी जाती है की बेंगान की फसल में फल छेदक सुंडी की रोकथाम के लिए 75 ग्राम स्पिनोसड (45एस.सी.) दवा को 200 लीटर पानी में मिला कर प्रति एकड़ की दर से छिड़काव करें, यदि फिर आवश्कता पड़े तो  15 से 20 दिन के बाद  दोबारा छिड़काव करें |

अरहर

अरहर की खेती करने वाले किसन भाइयों को ही सलाह दी जाती है कि यह मौसम अरहर की बिजाई के लिए उपयुक्त है,

किसानों से निवेदन है की मौसम साफ़ दिखाई दे तो मिट्टी मे उचित नमी देखते हुए अपने खेतों में अरहर की बिजाई करें |

गन्ना

गन्ने की खेती करने वाले किसान भाइयों को यह सलाह दी जाती है की मौसम को ध्यान में रखते हुए किसान अपनी गन्ने की फसल की निराई-गुड़ाई करें |

पशु पालन

पशु पालन करने वाले किसान भाइयों को ही सलाह दी जाती है की पशुओं को स्वस्थ रखने के लिए हरे चारे के साथ 50 ग्राम आयोडीन युक्त नमक और 50 से 100 ग्राम खनिज मिश्रण प्रतिदिन खिलाएं |

सभी किसान भाइयों को यह सलह दी जाती है कि फल अवशेषों को न जलाएं ताकि पर्यावरण स्वच्छ रहें तथा भूमि की उर्वरा शक्ति कम न हो  |

फसल अवशेषों को भूमि में दबाएं जिससे उर्वरा शक्ति बनी रहे ताकि आगामी फसल से सही उत्पदान लिया जा सके |

किसान भाइयों आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने निकटतम एग्रीकल्चर रिसर्च स्टेशन , कृषि कालेज , कृषि विज्ञान केंद्र , कृषि अधिकारी या जिला कृषि  कार्यालय के सम्पर्क में रहें और अपनी समस्याओं का निराकरण करें |

सरपंच महोदय आपसे निवेदन है कि आपके फोन के मैसेज बॉक्स में हमने जो लिंक भेजा है उसे कृपया आप अपने स्थानीय व्हाट्स एप्प ग्रुप में शेयर कर दें ताकि आपके माध्यम से यह महत्वपूर्ण सूचनाये आपके क्षेत्र में जन जन तक पहुँच कर आम जन को लाभान्वित करें

यदि आप स्वयं कोई स्थानीय व्हाट्सएप्प ग्रुप चलाते हैं तो हमारे कार्यालय के मोबाइल नंबर 9992220655 को उसमें शामिल कर लें, ताकि हम आपके व्हाट्स एप्प ग्रुप में खेती बाड़ी , पशुपालन से जुडी जनोपयोगी सूचनाएं भेज सकें जिससे आपके पंचायत क्षेत्र में आमजन को लाभ होगा |

हम आपको जो सन्देश उपलब्ध करवा रहे हैं आपको यह सन्देश कैसे लग रहे हैं इसके बारे में भी आप अपनी प्रतिक्रिया हमारे कार्यालय के ऊपर बताये हए नंबर पर व्हाट्सएप्प के माध्यम से भेज सकते हैं |

किसान संचार की ओर से आपका धन्यवाद |

 

Seen = 51 times