Thursday, 02 Jul 2020

DSCL SUGAR








www.mausam.imd.gov.in

लखीमपुर खीरी जिले का मौसम पूर्वानुमान

माननीय महोदय

नमस्कार

मौसम का यह पूर्वानुमान आपको भारतीय मौसम विज्ञान विभाग एवं किसान संचार के द्वारा दिया जा रहा है

लखीमपुर खीरी

लखीमपुर खीरी जिले में अगले चार दिनों तक हल्की वर्षा होने की संभावना है अधिकतम तापमान 34 डिग्री सेल्सियस तथा न्यूनतम तापमान 26 डिग्री सेल्सियस रहने के साथ ही हवा की गति 17 कि.मी. प्रति घंटा तक रह सकती है | 

 

किसन भाइयों एपिसोड के अगले भाग में हम आपको  विभिन्न फसलों के बारे में भारतीय मौसम विज्ञान विभाग द्वारा जारी एग्रो एडवाइजरी यानि कृषि सलाह के बारे में बताने जा रहे हैं

 

धान

धान के पौध की रोपाई के लिए खेत तैयार करें और धान की 20-25 दिन पौध की रोपाई करें यदि धान की नर्सरी मे खैरा दिखाई दे तो 10 वर्ग मीटर एरिया में 20 ग्राम यूरिया या 5 ग्राम जिंक सल्फेट प्रति लीटर पानी में घोल कर छिडकाव करें |

धान की उन्नतशील किस्में:- नरेंद्र-359, नरेंद्र धान-2026, नरेंद्र धान-2064, नरेंद्र धान-3112, नरेंद्र धान-2065, नरेंद्र ऊसर धान-2, सूरज-52, सीता, प्रो.एग्रो-6444, प्रो.एग्रो.6201, पूसा बासमती-1, मालवीय सुगंध-105, आर.एच-2, मालवीय सुगंध-3-4, नरेंद्र ऊसर धान-2008, आर.एच-1531 आदि बीजों की बुवाई कर सकते है |

मक्का

मक्का की खेती करने वाले किसान भाइयों को यह सलाह दी जाती है की वर्षा होने की स्थिति खरीफ मक्का की अनुशंसित संकर किस्में जैसे:- डी-7074, डी-9144, एम-2525, गंगा, आजाद शेखर मक्का-2, आजाद उतम, आजाद कमाल आदि की बुवाई करें |

मूंग

मूंग की पक्की फलियों की तुड़ाई कर मुड़ाई करके दाने को भूसे से अलग कर सुरक्षित भंडारण करें |

मूंग की पक्की फलियों की तुड़ाई करने के बाद बचे अवशेष को हरी खाद बनाने के लिए हैरो चलाकर मिटटी में दबा दें |  

बैंगन, फूलगोभी, टमाटर, मिर्च

वर्षा न होने की स्थिति में खरीफ में बोई जाने वाली सब्जियों जैसे:- बैंगन, टमाटर, फूलगोभी, मिर्च आदि की नर्सरी तैयार करें |

आम

आज के नये बागों की रोपाई के लिए गड्ढों की खुदाई कर खुला छोड़ दें |

पशु पालन

पशु पालन करने वाले किसान भाइयों को ही सलाह दी जाती है की पशुओं को स्वस्थ रखने के लिए हरे चारे के साथ 50 ग्राम आयोडीन युक्त नमक और 50 से 100 ग्राम खनिज मिश्रण प्रतिदिन खिलाएं तथा दिन में तीन बार स्वच्छ एवं ताजा पानी पिलायें |

पशुशाला के अंदर व बाहर मच्छर व कीट नियंत्रण के लिए फीनोल या कीटनाशक दवा का छिड़काव करें खुरपका या मुहपका रोग का टीकाकरण मानसून से पहले करवाएं |

मुर्गी पालन

मुर्गी पालन करने वालों को यह सलाह दी जाती है की वे बदलते मौसम को देखते हुए मुर्गीखाने में लगे पर्दों पर पानी के छीटें मारे जिससे ठंडक बनी रहे मुर्गियों को स्वच्छ पानी एवं संतुलित आहार दें मुर्गियों के पेट में पड़े कीड़ों की रोकथाम के लिए डिवमिर्ग दवा दें |

किसान भाइयों आपको यह सलाह दी जाती है कि अपने निकटतम एग्रीकल्चर रिसर्च स्टेशन , कृषि कालेज , कृषि विज्ञान केंद्र , कृषि अधिकारी या जिला कृषि कार्यालय के सम्पर्क में रहें और अपनी समस्याओं का निराकरण करें |

किसान संचार और भारतीय मौसम विज्ञान विभाग की ओर से आपका धन्यवाद |

Seen = 62 times